शुक्रवार, 21 नवंबर 2014

स्व. रामसेवक यादव, मुलायम सिंह यादव और 22 नवम्बर | हस्तक्षेप | hastakshep | HASTAKSHEP

खुद को समाजवादी विचारधारा का मानने वाले अधिसंख्य युवा स्व. रामसेवक यादव
जी को,  उनके व्यक्तित्व व कर्मों को नहीं जानते हैं। दरअसल तमाम समाजवादी
पुरोधाओं के जीवन संघर्षों को बताने,  उनके जन्मदिन,  पुण्यतिथि पर विचार
गोष्ठियों के आयोजन होने की आवश्यकता थी और है परन्तु कुछ एक आयोजनों के
अतिरिक्त समाजवादी विचारधारा और उसके अनुसरण को ग्रहण लग चुका है।
  ...........Rea More

#MulayamSinghYadav, #Samajwadiparty, #मुलायमसिंहयादव


स्व. रामसेवक यादव, मुलायम सिंह यादव और 22 नवम्बर | हस्तक्षेप | hastakshep | HASTAKSHEP

गुरुवार, 20 नवंबर 2014

‘मृत्युगढ़ में तब्दील होता छत्तीसगढ़’| मुआवजा मुनाफे पर चोट नहीं करता|HASTAKSHEP | HASTAKSHEP

इस सरकार को जवाब देना चाहिए कि पिछले दो
सालों में सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं में गड़बड़ी के कारण जो 150 मौतें हुई
हैं, उसका जिम्मा लेने से वह कैसे इंकार कर सकती है?
तो छत्तीसगढ़ ‘मृत्युगढ़’ में तब्दील होता जा रहा है, तो संघ संचालित भाजपा सरकार की नीतियों को उसमें अच्छा-खासा योगदान है।......Read More


‘मृत्युगढ़ में तब्दील होता छत्तीसगढ़’| मुआवजा मुनाफे पर चोट नहीं करता|HASTAKSHEP | HASTAKSHEP

मंगलवार, 18 नवंबर 2014

वाचाल होने से कोई बापू नहीं बन जाता !|hastakshep|लोकनायक लफ्फाजी से नहीं पैदा होते | HASTAKSHEP

इतिहास अपना गुण- धर्म बदल रहा है। हिंसक भी हीरो हो रहे है।  
शिकारी संत बनकर घूम रहे हैं। बाबा बहेलिया की तरह भक्तों का शिकार कर रहे
हैं। नेतृत्व अपना कृतित्व खो रहा है। वचनबद्ध अब प्रवचनबद्ध हो गए हैं।

राशन के बदले थाली में भाषण परोसे जा रहे हैं। भारत माता की जय का तड़का लग
रहा है। बयानबाजों का यह नया भारत है। नेताओं का बयान अगर विकास का आधार
होता तो देश शिखर पर होता !.....Read More

वाचाल होने से कोई बापू नहीं बन जाता !|hastakshep|लोकनायक लफ्फाजी से नहीं पैदा होते | HASTAKSHEP

शनिवार, 15 नवंबर 2014

....जहाँ सभ्यता नंगी खड़ी है | कतरा-कतरा आबरू | Atrocities against women | hastakshep | HASTAKSHEP

कुंभलगढ़ का यह क्षेत्र महिला उत्पीड़न की नरकगाह है, यहाँ डायनबताकर कई औरतें मारी गयी हैं। हत्या, जादू-टोने के शक में महिलाओं पर अत्याचार आम बात है, आज भी इस इलाके में जाति के नाम पर खौफनाक खाप पंचायतों के तालिबानी फरमान

लागू होते है, सरकारी धन से बने सार्वजनिक चबूतरों पर बैठकर खाप पंच औरतों
तथा गाँव के कमजोर वर्गों के विरुद्ध खुले आम फैसले करते है,.........आगे पढ़ें

....जहाँ सभ्यता नंगी खड़ी है | कतरा-कतरा आबरू | Atrocities against women | hastakshep | HASTAKSHEP

गुरुवार, 13 नवंबर 2014

जीते तो सिर्फ पवार हैं ! | HASTAKSHEP


भाजपा ने शिवसेना के विरोध के बावजूद सरकार चलाने के मकसद से विश्वासमत
प्राप्त करके शिवसेना को उसकी राजनीतिक हैसियत का एहसास करवा दिया है भले
ही उसे अपने धुर विरोधी और भ्रष्ट घोषित नेकांपा से गुप्त सहयोग लेना पड़ा
हो। यहीं से नरेन्द्र मोदी के भ्रष्टाचारमुक्त भारत के नारे की पोल खुल
जाती है और 

भाजपा ने शिवसेना के विरोध के बावजूद सरकार चलाने के मकसद से विश्वासमत
प्राप्त करके शिवसेना को उसकी राजनीतिक हैसियत का एहसास करवा दिया है भले
ही उसे अपने धुर विरोधी और भ्रष्ट घोषित नेकांपा से गुप्त सहयोग लेना पड़ा
हो। यहीं से नरेन्द्र मोदी के भ्रष्टाचारमुक्त भारत के नारे की पोल खुल
जाती है और...........ReadMore on


जीते तो सिर्फ पवार हैं ! | HASTAKSHEP

गुरुवार, 6 नवंबर 2014

अमेरिका का ही उत्पाद है “इबोला” ? | HASTAKSHEP

कुछ अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिकों का आरोप है कि इबोला से दवा बनाने वाली
अमेरिकी बहुराष्ट्रीय कंपनियां अपने हितसाधन कर रही हैं और इबोला कोई
महामारी या प्राकृतिक प्रकोप नहीं है, बल्कि यह अमेरिका के जैव रसायन
कारखाने की देन है। ..............Read More

अमेरिका का ही उत्पाद है “इबोला” ? | HASTAKSHEP